विभिन्न देशो के बीच अंतराष्ट्रीय रेखाएँ

अंतराष्ट्रीय रेखाएँ क्या होती हैं? प्रत्येक देश अपनी सीमा के निर्धारण के लिए कुछ विशेष चिन्हों या रेखाओं का निर्माण करता है l यही रेखा दो अलग-अलग राज्यों या राष्ट्रों के बीच तटस्था कार्य करती है l जब कभी किसी देश द्वारा विभिन्न देशो के बीच अंतराष्ट्रीय रेखाएँ उल्लंघन किया जाता है, तब इसे घुसपैठ अथवा आक्रमण कहा जाता है l विभिन्न देशो के बीच अंतराष्ट्रीय सीमाएं तथा उनके नामो को हम इस आर्टिकल मे पढ़ेंगे l

(1) डूरण्ड रेखा :– यह अंतरराष्ट्रीय रेखा अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान के बीच है इस रेखा का निर्धारण सर मोटिगर डूरण्ड द्वारा 1893 मे किया गया था l परंतु अफगानिस्तान इस निर्धारित सीमा को स्वीकार नहीं करता है l इस रेखा कि कुल लम्बाई 2640 km हैं l उस समय के ब्रिटिश इंडिया के तत्कालीन विदेश मंत्री सर मार्टीमर डूरण्ड के नाम पर इस रेखा को डूरण्ड रेखा कहाँ जाने लगा l

(2) मैकमोहन रेखा – 1914 में ब्रिटेन के सर मैकमोहन द्वारा भारत तथा चीन की सीमा के बीच एक समझौते के तहत मैक मोहन रेखा का निर्धारण किया था इस रेखा की लंबाई 700 मील हैं l

(3) रेडक्लिफ रेखा :– अंतरराष्ट्रीय रेखा भारत और पाकिस्तान के मध्य स्थित है 15 अगस्त 1947 को रेडक्लिफ द्वारा इस रेखा का निर्धारण किया गया था इस रेखा कि लम्बाई 3310 km हैं l

(4) हिंडनबर्गरेखा :- प्रथम विश्व युद्ध के समय जर्मन तथा पोलैंड के मध्य निर्धारित की गई अंतरराष्ट्रीय रेखा को हिंडनबर्ग रेखा कहते हैं l

(5) मैनरहीन रेखा :- सोवियत रूस और फिनलैंड के बीच खींचे गए अंतरराष्ट्रीय रेखा को मैनरहीन रेखा कहते हैं l

(6) मैगीनाट रेखा :- फ्रांस द्वारा खींची गई जर्मनी और फ्रांस के बीच अंतरराष्ट्रीय रेखा को मैगीनाट रेखा कहते हैं l

(7) 17 वी समानांतर रेखा :- उत्तरी और दक्षिणी वियतनाम के बीच अंतरराष्ट्रीय रेखा को 17 वी समानांतर रेखा कहलाती हैं l अंतराष्ट्रीय रेखाएँ

(8) 24 वी समानांतर रेखा :– गुजरात के कच्छ के पास जिसे पाकिस्तान द्वारा भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा मानता परंतु, भारत इसे अस्वीकार करता है l ( अंतराष्ट्रीय रेखाएँ )

(9) 38 वी समानांतर रेखा :– उत्तरी और दक्षिणी कोरिया का मध्य खींचे गए अंतरराष्ट्रीय रेखा को 38 वीं समानांतर रेखा कहा जाता है l

(10) 49 भी समानांतर रेखा:– अंतरराष्ट्रीय रेखा संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा के बीच स्थित है l

(11) ओडरनिसो रेखा :- अंतरराष्ट्रीय रेखा पूर्वी जर्मनी और पोलैंड के स्थित है l

(12) सिग्फ्रीड रेखा :- दूसरे विश्व युद्ध से पहले फ्रांस और जर्मनी की सीमा पर दीवारों, मीनारों, सैनिकों चौकियों से घिरी प्रतिरक्षा रेखा, जो जर्मनी द्वारा निर्मित की गई थी l विभिन्न देशो के बीच अंतराष्ट्रीय रेखाएँ

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *