Longitude Latitude and Equator

Longitude Latitude and Equator

भूमध्य रेखा (equator) :-

भूमध्य रेखा पृथ्वी पर खींची गई एक काल्पनिक रेखा है (जीरो डिग्री अक्षांश ) जो कि पृथ्वी को दो बराबर भागों में विभाजित करती है।

भूमध्य रेखा पृथ्वी को समान गोलार्धो में विभाजित करता है । एक भाग उत्तरी गोलार्ध के लाता है और दूसरा भाग दक्षिणी गोलार्ध कहलाता है।

अक्षांश रेखा (latitude line) :-

भूमध्य रेखा से ध्रुवों तक दोनों गोलार्धों में अनेक वृत्त खींचे जाते हैं । यह वृत्त ही अक्षांश रेखा कहलाते है। अक्षांश रेखाएं 0° से 90 डिग्री उत्तर एवं दक्षिण तक पाई जाती हैं।
भू-पृष्ठ पर भूमध्य रेखा के उत्तर या दक्षिण में पृथ्वी के केंद्र से मापी गई कोणीय अधूरी अक्षांश कहलाती है इसे अंशो (360°) , मिनटों (60′) , सेकंड (60”) में दर्शाया जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य:- (Longitude Latitude and Equator)

  • अक्षांश रेखाओं की कुल संख्या 179 होती है।
  • जीरो डिग्री से 90 डिग्री उत्तरी गोलार्ध में 89 अक्षांश रेखाएं होती हैं।
  • जीरो बिजली से 90 डिग्री दक्षिणी गोलार्ध में 89 अक्षांश रेखाएं होती हैं।
  • जीरो डिग्री भूमध्य रेखा = 1
  • कुल अक्षांशों की संख्या 179 अक्षांश रेखाएं होती हैं।
  • 1 डिग्री अक्षांश के बीच की दूरी लगभग 111 किलोमीटर होती है।

देशांतर रेखा (longitudes) :-

सामान्य शांत्र को मिलाने वाली काल्पनिक रेखा जो कि ध्रुवों से होकर गुजरती है देशांतर रेखा कहलाती है प्राइम मेरिडियन जीरो डिग्री से पूर्व एवं पश्चिम दिशा में 180 डिग्री तक होती है।

देशांतर का अर्थ:- प्राइम मेरिडियन यानी ग्रीनविच मेरिडियन से पूर्व एवं पश्चिम की कोणीय दूरी देशांतर कहलाती है ।

Prime meridian :- प्रधान याम्योत्तर

प्रधान याम्योत्तर या प्राइम मेरिडियन रेखा जीरो डिग्री देशांतर को माना गया है। यह लंदन के निकट ग्रीनविच से गुजरती है। प्रधान याम्योत्तर को अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा या ग्रीनविच देशांतर के नाम से जाना जाता है ।

यह रेखा विश्व के 2 महाद्वीपों के 8 देशों से होकर गुजरती है इन देशों के नाम निम्नलिखित हैं
• यूरोप :- स्पेन, फ्रांंस तथा U.K
• अफ्रीका :- बुर्किना फासो , घाना , टोगो, माली तथा अल्जीरिया

  • 1 डिग्री देशांतर की भूमध्य रेखा पर दूरी 111.32 किलोमीटर होती है
  • गोलाकार होने कारण पृथ्वी 24 घंटे में 360-degree घूम जाती है।
  • 1 डिग्री देशांतर की दूरी तय करने में पृथ्वी को 4 मिनट का समय लगता है इस प्रकार 15 डिग्री देशांतर 60 मिनट के बराबर होती है।
  • तथा 360-degree दूरी तय करने में पृथ्वी को 24 घंटे का समय लगता है।

कर्क रेखा :- भूमध्य रेखा से उत्तरी गोलार्ध में 23 ½ ° उत्तरी अक्षांश रेखा को कर्क रेखा कहा जाता है।

मकर रेखा :- भूमध्य रेखा से दक्षिणी गोलार्ध में 23 ½ ° अक्षांश रेखा को मकर रेखा कहा जाता है।

आर्कटिक वृत्त :- भूमध्य रेखा से उत्तरी गोलार्ध में 66 ½ ° उत्तरी अक्षांश रेखा को आर्कटिक वृत्त कहा जाता है।

अंटार्कटिक वृत्त :- भूमध्य रेखा से दक्षिणी गोलार्ध में 66 ½ ° उत्तरी अक्षांश रेखा को आर्कटिक वृत्त कहा जाता है।

महत्वपूर्ण तथ्य:-

  • अफ्रीका महाद्वीप से कर्क रेखा मकर रेखा और भूमध्य रेखा तीनो ही गुजरती है।
  • एशिया महाद्वीप से कर्क रेखा और भूमध्य रेखा गुजरती है।
  • उत्तरी अमेरिका महाद्वीप से केवल कर्क रेखा गुजरती है।
  • दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप से मकर रेखा और भूमध्य रेखा गुजरती है।
  • ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप से केवल मकर रेखा गुजरती है।
  • ब्राजील एकमात्र ऐसा देश है जहां पर मकर रेखा भूमध्य रेखा गुजरती है।

पृथ्वी को तीन ताप कटिबंध में विभाजित किया गया है:-

उष्ण कटिबन्ध (The Torrid Zone) :- इसका विस्तार उत्तरी गोलार्ध की कर्क रेखा से दक्षिणी गोलार्ध की मकर रेखा तक है।

%शीतोष्ण कटिबन्ध (The Temperate Zone) :- इसका विस्तार उत्तरी गोलार्ध में कर्क रेखा से आर्कटिक वृत्त के मध्य एवं दक्षिणी गोलार्ध से मकर रेखा से अंटार्कटिक वृत्त तक है।

शीत कटिबन्ध (The Frigid Zone or polar region) :- इसका विस्तार उत्तरी गोलार्ध में आर्कटिक वृत्त से उत्तरी ध्रुव तक तथा दक्षिणी गोलार्ध में अंटार्कटिक